BSE SENSEX Big Update 2023

 वैश्विक बाजारों में गिरावट को देखते हुए आज सेंसेक्स और निफ्टी गिरावट के साथ खुले।  बढ़ती मुद्रास्फीति और ब्याज दरों पर चिंता के कारण बिकवाली शुरू हो गई।

 23 जून, 2023 को 63,238.89 के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंचने के बाद से सेंसेक्स में गिरावट का रुख है। 

निफ्टी में भी गिरावट आ रही है, और यह अब 18,800 के स्तर से नीचे कारोबार कर रहा है।

 विश्लेषकों को उम्मीद है कि निकट अवधि में सेंसेक्स और निफ्टी में उतार-चढ़ाव बना रहेगा, क्योंकि निवेशक वैश्विक आर्थिक विकास पर नजर रखना जारी रखेंगे।

 यहां कुछ कारक दिए गए हैं जिनका भारतीय शेयर बाजार पर असर पड़ रहा 

 बढ़ती मुद्रास्फीति: भारत में मुद्रास्फीति हाल के महीनों में बढ़ रही है, और आने वाले महीनों में इसके बढ़ने की उम्मीद है। 

 इससे कॉरपोरेट आय और उपभोक्ता खर्च पर दबाव पड़ रहा है।

 बढ़ती ब्याज दरें: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने पिछले दो महीनों में दो बार ब्याज दरें बढ़ाई हैं, और आने वाले महीनों में दरें फिर से बढ़ने की उम्मीद है। 

इससे कॉरपोरेट आय और उपभोक्ता खर्च पर भी दबाव पड़ रहा है।

 वैश्विक आर्थिक मंदी: वैश्विक अर्थव्यवस्था धीमी हो रही है और इसका असर भारतीय निर्यात की मांग पर पड़ रहा है।  इसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी पड़ रहा है।